सम्वेदना के स्वर

यह ब्लॉग उस सनातन उत्सवधर्मिता को जीवित रखने का प्रयास है,

जिसमें भाव रस और ताल का प्रतीक आम आदमी का भा-- बसता है.
सम्वेदनाएँ...जो कला, साहित्य, दर्शन, विज्ञान, राजनीति आदि के माध्यम से अभिव्यक्त होती हैं, आम आदमी के मन, जीवन और सरोकार से होकर गुज़रती हैं तथा तलाशती हैं उस भारत को, जो निरंतर लड़ रहा है अपने अस्तित्व की लड़ाई.....

Tuesday, April 5, 2011

जंतर मंतर से सम्वेदना के स्वर




आज प्रात: सलिल भाई द्वारा लिये गये जंतर मंतर के कुछ छाया चित्र



धोनी सचिन कपिल हज़ारे, देखों अब ये देश न हारे।

20 comments:

kshama said...

Bada achha laga in tasveeron ko dekh! Jaise ham shamil hon!

Mukesh Kumar Sinha said...

jai ho!

देवेन्द्र पाण्डेय said...

एक इधर तो एक उधर हैं
सम्वेदना के स्वर मुखर हैं।
...वाह!

शिवम् मिश्रा said...

हो गई है पीर पर्वत-सी पिघलनी चाहिए
इस हिमालय से कोई गंगा निकलनी चाहिए

आज यह दीवार, परदों की तरह हिलने लगी
शर्त थी लेकिन कि ये बुनियाद हिलनी चाहिए

हर सड़क पर, हर गली में, हर नगर, हर गाँव में
हाथ लहराते हुए हर लाश चलनी चाहिए

सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं
मेरी कोशिश है कि ये सूरत बदलनी चाहिए

मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने में सही
हो कहीं भी आग, लेकिन आग जलनी चाहिए

इंक़लाब जिंदाबाद - जय हिंद !!

shikha varshney said...

शिवम जी ने बहुत सटीक पंक्तियाँ लिखी हैं. आभार तस्वीरों के लिए.

ZEAL said...

ये व्रत सफल हो ।

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

chaitanya bhaai! aapka aadesh tha, taal bhi to nahin saktaa thaa.. swami Agniveshm Kejriwaal, kiran Bedi bhi wahin maujood the.. logon ka hujoom dekhne laayak thaa. media, cameras aur naare ke beech shaant baithe Anna Hazare!!! Adbhut Drshya!!

दीपक बाबा said...

बहुत अच्छा लगा सलिल सर का जाना जंतर मंतर पहुंचना.. शुक्रिया .

पर चित्रों में भगवाधारी कम्युनिस्टी अग्निवेश भारतमाँ के चित्र से मंच शेयर करते हुये।

कितना अनोखा देश है मेरा - सच्ची

Sonal Rastogi said...

saarthak pahal

नीरज गोस्वामी said...

जो इंसान व्यक्तिगत हितों को त्याग कर हम सब के लिए अकेला लड़ रहा है वो पूज्यनीय है...
नीरज

प्रवीण पाण्डेय said...

शुभकामनायें।

Deepak Saini said...

photos ke liye dhanyawad
maine bhi HAZARE ji ke abhiyan me ragistration kara liya hai
kal aapke dwara diye gaye no. par miss call karke
dhanywad

VICHAAR SHOONYA said...

मैं सच्चे दिल से ये प्रार्थना करता हूँ की अन्ना हजारे का यह प्रयास शीघ्रता से सफल हो.

राहुल सिंह said...

आगे का हाल जानने भी यहां आएंगे.

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

इस मुद्दे पर पहली बार ऐसा जोश दिख रहा है, खुशी है।

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

इस मुद्दे पर पहली बार ऐसा जोश दिख रहा है, खुशी है।

अरूण साथी said...

देश की खातिर

ajit gupta said...

देश में लोकपाल विधेयक पास हो, यह सपना पूरा हो। राजा और प्रजा के लिए अलग-अलग कानून अब नहीं चलेंगे। अन्‍ना हजारे विजयी होंगे।

रचना दीक्षित said...

चाल चिंतन के प्रदूषण से देश को और खुद को महफूज़ रखने के लिए इस मुहीम जुडना ही होगा सबको.

एह अलख जगाए रखिये.

Udan Tashtari said...

अच्छे चित्र...हम अन्ना के साथ हैं.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...